Hindi Poem

“ खुशियों की तलाश ”

दोस्तों एक खुशहाल जिंदगी की तलाश में हम अपनी पूरी उमर तरह तरह के जतन करने में निकाल देते हैं| पर हम अक्सर यह भूल जाते हैं की जिंदगी में खुशियों की तलाश करनी नहीं पड़ती, वह तो naturally ही हमारे चारो तरफ होती हैं | पर हमारा नजरिया कहे या हमारे सोचने का दायरा जो हमें सदैव इधर उधर के मोह माया के भ्रम में भटका कर रखता है| और एक दिन इन्ही खुशियों के जतन की तलाश करते करते हम मृत्यु की सैंया तक चले जाते हैं | दोस्तों खुसियो का कोई कोई वर्चस्व नहीं होता वह हमारे चारो तरफ बिखरी पड़ी है बस जरुरत है तो हमें महसूस करने की हमारे नजरिये पर हमारी चीजों को देखने और समझने के सोच पर|

दोस्तों आज जिंदगी में खुशियों को प्रेरित करने वाली एक बेहतरीन कविता के साथ प्रस्तुत हुए
हैं जिससे आपको अपने जिंदगी में खुशियों के महत्व का एहसास होगा|
तो आइये शुरू करते है आज की यह प्रेरणा भरित कविता जिसका शीर्षक है ” खुशियों की तलाश”

जिसे ढूंढ़ने की तलाश में, हम पूरी जिंदगी बिता देते हैं !!
इन खामोशियों को हम अक्सर, यूँ ही छिपा देते हैं !!
ना जाने वो ख़ुशी किस तरह, इठलाते हुए हमारे द्वार पर आयेगी !!
ये सोचते हुए हम बहुत से, खूबसूरत पलों को गवाँ देते हैं !!
ये वो मासूमियत है, जिसे किसी मासूम बच्ची से पूछो ?
ये वो शख्शियत है, जिसकी पहचान है उसी से पूछो !!
ये वो काबिलियत है, जिसे पाने का लालच हर व्यक्ति के मन में है !!
और ये तो उस खुद की इनायत है, जिसकी रियासत है उसी से पूछो ?
जिसके एहसास की खुशबू से, हर फूल खिल उठता है !!
जिसके रहवास से घर का, कोना – कोना महक उठता है !!
ये तो वो सुनहरा पंछी है, जिसका कोई ठिकाना नहीं !!
पर जहाँ भी ठहरता है, मुस्कराहट की लड़ियाँ बिखेर देता है !!
इस जीवन के समंदर का, ये वो प्यारा किनारा है !!
जिसको लहरों ने अपने, आशियाने से सँवारा है !!
इस प्यारे से सागर का, न कोई ओर न ही कोई छोर है !!
उस बरसती हुई बगिया में, ख़ुशी तो एक नाचता हुआ मोर है !!
ख़ुशी शांति और प्रेम – ये कोई आधयात्मिक लक्ष्य नहीं है !!
यह सब तो समझदारिपूर्वक जीने की शुरुआत है !!

दोस्तों खुशियों की सिर्फ एक चाभी है, जो की आपका नजरिया है| तो खुशियों को ढूढ़ने में अपना समय बर्बाद न करे, उन्हें अपने चारो ओर महसूस करें| क्यूंकि इस सारे जहाँ में खुशियाँ बिखरी पड़ी हैं हर चीज में ख़ुशी है, तो अपना दिल खोल कर खुशियों का स्वागत करें और खुश रहें|

दोस्तों आपको यह कविता कैसी लगी हमें अपने Comment के जरिये अवगत कराये और Pahals.in को like और share करना न भूले|