Blogging

राष्ट्रीय युवा दिवस | National Youth day | 12 January

Youth has no age.
उठो, जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाये.

राष्ट्रीय युवा दिवस | National Youth day | 12 January

12 जनवरी को स्वामी विवेकानंद जी के जन्मदिवस को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप मै मनाया जाता है. स्वामी विवेकानन्द युवाओ के सच्चे प्रेरणा स्त्रोत है इसलिए उनके जन्मदिवस को युवा दिवस के रूप मै मनाया जाता है.

भारत की तरह पूरी दुनिया मै भी युवा दिवस मनाया जाता है. अंतर्राष्ट्रीय युवा दिवस 12 अगस्त को पूरी दुनिया मै मनाया जाता है

 राष्ट्रीय युवा दिवस के बारे में कुछ बातें

18 वर्ष से 35 वर्ष के लोगों को युवा माना जाता है.

औसत उम्र के अनुसार इस समय भारत को विश्व के सबसे अधिक युवा देशों में से एक माना जाता है.

साल 1984 में भारत सरकार ने हर साल 12 जनवरी को राष्ट्रीय युवा दिवस के रूप में मनाने का फैसला लिया था.

✔️ साल 1985 में पहली बार भारत में राष्ट्रीय़ युवा दिवस मनाया गया था.

✔️ साल 1995 में पहली बार राष्ट्रीय युवा दिवस के दिन राष्ट्रीय युवा महोत्सव का आयोजन भोपाल में किया गया.

✔️ राष्ट्रीय युवा महोत्सव का आयोजन 5 दिन किया जाता है.


खुद को कमजोर समझना सबसे बड़ा पाप हैं।

युवा दिवस पर रखे गए कुछ महत्वपूर्ण विषय (National Youth Day Themes)

  1. 2011 का विषय था: 2011 मै भारत मै पहली बार , युवा दिवस के लिए विषय रखा गया था. इस वर्ष जो विषय चुना गया वो था “सबसे पहले भारत।”     
  2. 2012 का विषय था: 2012 में इस दिवस के लिए जो विषय चुना गया वो था “अनेकता मै एकता (Unity in diversity)”था. इस विषय के जरिये देश के युवाओ को एकता का महत्व बताने का प्रयास किया गया था “अनेकता में एकता का जश्न।”     
  3. 2013 का विषय था:– 2013 मै इस दिन के लिए युवा शक्ति जागरण( Awakening the youth power) को चुना गया. इस विषय के जरिये देश के युवाओ को प्रोत्साहित करने की कोशिश की गयी ।
  4. 2014 का विषय था: 2014 मै इस दिन को युवाओ के बिच बढ़ रहे नशीले पदार्थो के सेवन को रोकने के लिए “ड्रग्स मुक्त संसार के लिये युवा”(Youth for drugs free world) के विषय को चुना गया।     
  5. 2015 का विषय था: इस साल का विषय था “यंगमंच और स्वच्छ, हरे और प्रगतिशील भारत के लिये युवा”. इस विषय के जरिये युवाओ मै साफ़ सफाई और पर्यावरण के प्रति जागरूकता लेन की कोशिश की गई थी । 
  6. 2016 का विषय था:– इस साल का विषय था “विकास, कौशल और सद्भाव के लिए भारतीय युवा”(Indian youth for development, skill and harmony) रखा गया. इस विषय के जरिये युवाओ मै विकास, कौशल और सद्भाव के महत्व के बारे मै बताया गया।
  7. 2017 का विषय था: इस साल को डिजिटल इंडिया बनाने के लिए सरकार द्वारा योजनाए चलाई गई “यूथ ऑफ़ डिजिटल इंडिया।” 
  8. 2018 का विषय था: इस साल का विषय था “युवाओं के लिए सुरक्षित स्थान” (Safe Spaces for Youth).

दोस्तों हमे उम्मीद है आपको हमारा ये ब्लॉग पसंद आया होगा। आप हमारी वेबसाइट पर और भी कई interesting blogs पढ़ सकते है।