Uncategorized

कभी प्रयास करना बंद ना करें

Never Give Up

हेलो दोस्तों,

दोस्तों हर कोई जीवन में सफल होना चाहता है लेकिन जीवन में सफलता पाना इतना आसान नहीं है, आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ती है बीना थके बीना रुके। कठिनाईया हमेशा आपके सामने आएगी लेकिन आपको थकना नहीं है हारना नहीं है। लगातर आगे बढ़ना है क्युकी जो रुक जाता है हार मान लेता है वो सफलता का निकट पहुंच कर भी खाली हाथ रह जाता है। और दोस्तों सफलता मंदिर का प्रसाद नहीं है जो लाइन में लग कर मिल जाये बल्कि सफलता ईश्वर के दर्शन के जैसी है, कड़ी तपस्या के बाद मिलती है।

आईये दोस्तों इस बात को हम एक कहानी के माध्ययम से समझते है। कहानी का शीर्षक है “ कभी प्रयास करना बंद ना करें ”

एक बार की बात है, एक Science की Research Lab में, एक experiment किया गया। एक बड़े शीशे के टैंक में बहुत सारी छोटी छोटी मछलियाँ छोड़ी गयीं और फिर ढक्कन बंद कर दिया। अब थोड़ी देर बाद एक बड़ी शार्क मछली को भी टैंक में छोड़ा गया लेकिन शार्क को उन छोटी मछलियों से दूर रखने के लिए उनके बीच में एक काँच की दीवार बनायी गयी।

क्युंकि शार्क का nature तो हम जानते ही है, की वो छोटी मछलियों को खा जाती है। तो बस फिर क्या था, शार्क ने छोटी मछलियाँ को देखते ही वो झपट कर उनकी ओर बढ़ी।

अब जैसे ही शार्क मछलियों की ओर गयी, वो उस कांच की दीवार से टकरा गयी और मछलियों तक नहीं पहुँच पायी। शार्क को कुछ समझ नहीं आया वो फिर से छोटी मछलियों की ओर दौड़ी लेकिन इस बार भी वो विफल रही। अबकी बार शार्क को बहुत गुस्सा आया और वो पूरी ताकत से छोटी मछलियों पे झपटी लेकिन फिर से कांच की दीवार बाधा बन गयी। वो कहते है ना की – Difficult Roads Offen Lead to beautiful Destinations. तो बस यही सोच कर शार्क कोशिश करती रही की कभी तो उसको मछलियों को खाने को मिलेगा ! अब कुछ घंटों तक यही क्रम चलता रहा, और हर बार वो विफल हो जाती।

लेकिन कुछ देर बाद शार्क को लगा कि वह मछलियों को नहीं खा सकती, यही सोचकर शार्क ने हमला करना बंद कर दिया वो थक कर आराम से पानी में तैरने लगी। दोस्तों हम भी इसी तरह लाइफ में थोड़े प्रयास क बाद हार मन लेते है जो सही नहीं है।

अब कुछ देर बाद Scientists ने उस कांच की दीवार को शार्क और मछलियों के बीच से हटा दिया उन्हें उम्मीद थी कि शार्क अब सारी मछलियों को खा जाएगी।

परन्तु ये क्या , शार्क ने हमला नहीं किया ऐसा लगा जैसे उसने मान लिया हो कि अब वो छोटी मछलियों को नहीं खा पायेगी। काफी देर गुजरने के बाद भी शार्क खुले टैंक में भी मछलियों पर हमला नहीं कर रही थी।

इसे कहते हैं सोच। क्युकी शार्क हार मान चुकी थी, उसने सोच लिया था की अब वो कुछ भी कर ले पर कभी मछलिया नहीं खा पायेगी, तो उसने प्रयास ही बंद कर दिए,। जब कोई मन से हार मान ले वो कभी सफल हो ही नहीं सकता क्युकी ऐसा व्यक्ति के मान से आशा ही समाप्त हो जाती है और वो कुछ और प्रयत्न करना ही नहीं चाहता है।

कहीं आप भी शार्क तो नहीं? हाँ! हममें से काफी लोग ऐसे ही है जो किसी कांच जैसी दीवार की वजह से ये मान बैठे हैं कि हम कुछ नहीं कर सकते। और हममें से काफी लोग तो ऐसे जरूर होंगे जो कोशिश करना भी छोड़ चुके होंगे।

दोस्तों Just because you fail once doesn’t mean you’re gonna fail everytime. कोई problem या obstacle हमेशा नहीं रहता, क्या पता आपकी काँच की दीवार भी हट चुकी हो लेकिन आप अपनी सोच की वजह से प्रयास ही नहीं कर रहे। The only real failure in life is the failure to try. इसलिए अपने प्रयास हमेशा जारी रखे

The only Failure is when You say, “I GIVE UP” सच है दोस्तो अगर आप भी हार मान लेंगे तो कभी सफल होंगे ही नहीं। आप भी कहीं ना कहीं ये मान बैठे हैं कि मैं नहीं कर सकता। पर मैं दावे के साथ कह सकता हूँ कि एक दिन आपकी दीवार भी जरूर हटेगी या हट चुकी होगी। जरुरत है तो सिर्फ आपके पुनः प्रयास की क्युंकि एक निश्चय सब कुछ बदलता है। तो सोचिये मत, प्रयास करते रहिये आप जरूर कामयाब होंगे

आशा है दोस्तों की आपको ये कहानी पसंद आई होगी और आप ने भी अपने अंदर की थकी / हारी हुई शार्क को उठाके फिर से कोशिश करने का मन बना लिया होगा, तो यकीन मानिये दोस्तों आपको इस बार जितने से कोई नहीं रोक सकता !
You just need to believe in YOURSELF & you will be UNSTOPPABLE.

Wish you Good Luck 🙂

अगर आप ऐसे ही MOTIVATE होते रहना चाहते है तो अभी SUBSCRIBE करें हमारा Youtube Channel – Pahals. in : A Learning Diary